dhyan kaise kare ?– ध्यान में मन लगाने की 10 तरीके 2021

 dhyan kaise kare – ध्यान  में  मन  लगाने  की  10 तरीके  2021

 

 

आज हम आपको dhyan kaise kare और इसमें क्या -क्या करना चाहिए इसके तरीके बताएंगे हिंदी language में.

 

 

Dhyan Kaise Kare ?

 

 

एक successful और peaceful life को achieve करने के लिए सबसे ज्यादा जरुरी होता है “ध्यान ”. इससे हमें मानसिक शान्ति मिलती है , Memory power बढ़ती है , Life में positive होने लगते हैं , मन (Mind) Concentrate रहता है . ध्यान में मन कैसे लगाए और dhyan kaise kare जानिय।

 

 

dhyan kaise kare-बहुत से youngsters हैं , जो की जोश में आकर ध्यान करने का मन बना लेते हैं लेकिन ध्यान में मन नहीं लगने पर वह 2-4 दिन के बाद ध्यान करना बंद कर देते हैं . इसीलिए हम आपको ध्यान में मन लगाने की , Concentrate करने की कुछ टिप्स दे रहे हैं . इनको ध्यान करने से पहले करे तो आपका ध्यान से मन नहीं भटकेगा .

 

 

ध्यान करने लिए क्या करे ??

 

Empty Stomach रखे

खाना खाने के बाद आलस्य आ जाते है , इसलिए कभी भी कुछ खाने के बाद ध्यान नहीं करना चाहिए , क्यूंकि यह ध्यान में focus नहीं करने देते हैं . वैसे अगर आप सुबह के समय ध्यान करेंगे तो कोई problem ही नहीं रहेगी , क्यूंकि सुबह तो पेट खाली ही रहता है .

 

Bathing करे

नाहने से शरीर और मन में ताजगी आ जाती है आलस्य दूर हो जाते हैं . ध्यान करने से पहले Fresh होकर नाह लें . इससे आपका मन ताज़ा रहेगा और meditation करते समय नींद नहीं आएगी .

 

एकांत जगह चुने

ध्यान करने के लिए जरुरी है की किसी भी तरह का disturbance न हो , इसके लिए आप अपने घर में एक रूम choose करे उसका दरवाजा और light off करले अपने मोबाइल फ़ोन को या तो switch off करले या silent mode पर रख दें .

 

अगर आप घर पर ध्यान नहीं कर सकते तो बाहर पार्क में जाकर भी ध्यान कर सकते हैं . या आपके घर के पास अच्छे nature वाली जगह हो तो वहां जा कर ध्यान कर सकते . यह और भी अच्छा रहेगा .

 

हलके कपडे पहने

ध्यान के लिए हलके कपडे पहने ताकि आपको बैठने में परेशानी न हो , और शरीर को oxygen आसानी से touch कर सके . इससे आपको relaxed feel होगा . अगर आप jeans Tshirt में ध्यान करेंगे तो बहुत problem होगी , बहुत पसीना आएगा etc.

 

Meditation करने की Timing

ध्यान लगाने के लिए सही समय चुने और रोजाना उसी समय पर ध्यान करे . वैसे ध्यान करने के लिए सुबह का टाइम सबसे बेस्ट होता है. इसलिय आप सुबह जल्दी उठने की आदत बनाये और रोजाना 6 am से लेकर 7 am के बीच में किसी भी समय ध्यान करे .

 

सुबह के समय Oxygen fresh होती है , जिस से meditation करने में आसानी होती है , बस , कार एयर पोल्लुशण etc morning time पर कुछ भी नहीं होता पूरा nature शांत रहता है . इस समय ध्यान करने में कोई disturbance भी नहीं होती .

 

Warm Up करे

dhyan kaise kare-Normally जब हम ध्यान करने बैठते हैं तो पैर दर्द करने लगते हैं , कभी हाथ , कभी कमर , कभी गर्दन यह सब meditation करने नहीं देते इसलिए meditation करने से पहले 5 minute सूर्य नमस्कार और योग कर ले इससे body की stretching हो जाएगी . जिससे आपको बैठने में problem नहीं होगी .

 

2 Minute प्राणायाम करे

जब हम सीधे meditation करने बैठते हैं तो ध्यान करने में मन नहीं लगता तो इससे बचने के लिए आप प्राणायाम करे . प्राणायाम करने से मन शांत हो जायेगा जिससे आपका मन एकाग्र हो जायेगा .

 

Meditation Posture

ध्यान के लिए सबसे easy pose होता है सिद्धासन , हां starting में आपको meditation के posture में देर तक बैठने में परेशानी होगी लेकिन धीरे -धीरे practise होने से यह बंद हो जाएगी . इसके लिए आप दिन में भी ऐसी posture में बैठने की आदत डालें इससे meditation में बैठने की strength बढ़ेगी .

 

 

सिद्धासन में बैठने के बाद अपनी vertebrae (Back) को ना तो ज्यादा झुका कर रखें और ना ही ज्यादा stretch, पुरे शरीर को जितना हल्का करके छोड़ देंगे ध्यान लगाने में उतना ही benefit होगा . अपने चहरे पर एक smiley बना कर रखें .

 

अपने शरीर को बिलकुल ढीला छोड़ दें , जरा भी tight नहीं रखें नहीं तो ध्यान नहीं लग पायेगा क्यूंकि इससे शरीर दर्द करने लगेगा , इसलिए beneficial तो यही है की आप शरीर को न ज्यादा खींचें न ज्यादा झुकाएं.

 

10 Deep Breaths लें

Posture में बेथ जाने के बाद आँखों को बंद कर ले और 10 धीरे धीरे गहरी स्वांस लें , जब स्वांस लें तो महसूस करे की आपके अंदर सकारात्मक शक्ति आ रही है और जब स्वांस बाहर निकालें तो feel करे की सारी नकारात्मक energy बाहर जा रही है. इससे आपके शरीर में मौजूद बेकार oxygen बाहर निकल जाएगी , और breathing पर focus करने में भी आसानी होगी .आपके mind में positivity भर जायेगी .

 

Breathing पर Focus करना

अब आपको अपनी breathing को देखना है , “अपना पूरा focus inhale और exhale पर लगा दें . यह देखें की breath कैसे inhale हुई और फिर कैसे exhale हुई . अगर आपको starting में ऐसा करने में problem हो तो आप breath को count करना शुरू कर दे . Breath को सिर्फ देखे और count करे की यह आई और यह गई बस .

 

स्वांस पर ध्यान

यह बहुत easy है , लेकिन सिर्फ तब जब आप सिर्फ breathing पर ध्यान देंगे अगर आपने अपने मन (Mind) में आने वाले विचारों पर ध्यान दिया तो “गई भैंस पानी में ” इसके लिए best रहेगा की thoughts को ignore करें , “Thoughts आये भी तो उन्हें आने दें आप सिर्फ अपने breathing को देखते रहे ” धीरे -धीरे thoughts गायब होने लगेंगे .

 

Awareness Meditation

यह बहुत easy meditation हैं , इसमें आपको सिर्फ posture में बैठे रहना है ना तो अपनी breath पर ध्यान देना है न विचारों पर . आप सिर्फ posture में बैठ जाए और अपने आस पास की आवाज़ सुने . यह ध्यान आप कार , बस में भी कर सकते हैं .

 

इस ध्यान में करना कुछ भी नहीं है , “सिर्फ देखना है ” Witness करना है, फिर चाहे वह Thoughts हो , Feelings हो , शोरगुल हो आपको इन सब को accept करना है और witness करनी हैं .

 

For Example : आपको कोई thought आया की “आपके साथ बुरा हो गया आपकी गलती नहीं थी फिर भी ” तो आपको इस thought को सिर्फ देखना है , इस thought को reply नहीं देना हैं , ऐसी में उलझ नहीं जाना है . जो हो रहा हे होने दो आप सिर्फ witness बनाये रखें . यह ध्यान करने के तरीके में से सबसे बेस्ट है.

 

Meditation Kaise Kare

Mindfulness Meditation

इस meditation का meaning होता है आप जो भी काम कर रहे हो उसको पुरे ध्यान से करना , For Example आप walking कर रहे हैं – तो पुरे ध्यान से walking करे अपने पैरों को चलते हुए देखें . खाना खाते समय अपने मुंह को देखें पुरे ध्यान से की कैसे खाना चबाया जा रहा है etc. चाहे आप जो भी work करे अपना पूरा ध्यान लगा कर करैं

 

ध्यान लगाने की फायदे जाने

 

  • मानसिक  शांति  मिलती  है , आपको  कोई  सी  problem tension नहीं  दे  सकती . 
  • Concentration बढ़ता  है , आप  जो  भी  काम  करेंगे  उसमे  आपका  ध्यान  नहीं  भटकेगा . 
  • Blood pressure में  फायदेमंद  होगा  
  • headachesulcersinsomnia को  ख़त्म  कर  देगा . 
  • Memory power बढ़ता  है. 
  • Mind तेज  करता  है  , आपके  सोचने  समझने  की  strength बढ़ती  है . 
  • Spiritual Power – जब  आपका  meditation deeper (गहरा ) होता  जाएगा  तो  आपको  spiritual power जैसी  सिद्धि  कहते  हैं . वह  आपको  मिलने  लगेंगे  
  • किसी  भी  चीज  का   future और  Past जान  सकेंगे . 

 

 

 

Leave a Comment

%d bloggers like this: