दांतों में ठंडा लगने के आसान उपाय –Sensitive का इलाज

दांतों में ठंडा लगने के आसान उपाय –Sensitive का इलाज

 

 

दांतो में ठंडा लगने के उपाय और इलाज इन हिंदी : अक्सर कुछ लोगो का कहना होता है की वे जब भी कुछ ठंडा या गरम कहते है तो उनके दांतो में झनझनाहट और दर्द होने लगता है . हमारे teeths पर एक coating होती है जिसे enamel कहते है , दांतो की देखभाल ना करने , कीड़ा लगने , cavity के कारण इनेमल coating घिस जाती है जिस कारण हमारे दन्त ज्यादा sensitive हो जाते है.

 

जिस वजह से कुछ भी ठंडा गरम खाने से दांतो में दर्द महसूस होने लगता है . कुछ लोगो को तो पानी पीने से भी दांतो में तेज झनझनाहट होने लगती है . कुछ लोग teeth में ठंडा गरम लगने पर इसके इलाज के लिए दवा लेते है पर हम बिना medicine के घरेलु उपाय और नुस्खे से sensitive दांतो का इलाज कर सकते है . आइये जाने दन्त में पानी लगने का उपाय कैसे करे , natural home remedies for sensitive teeth pain treatment in hindi.

 

 

आजकल खाने पीने की चीजों में होने वाली मिलावट का असर हमारी सेहत पर तो पड़ता ही हैं साथ ही इससे हमारी हड्डिया और दांत भी कमजोर होने लगते है . इसके इलावा हमारे खाने पिने की बुरी आदते भी दांतो की कमजोरी का एक कारण है . दांत में दर्द होने पर दवा और इलाज से इसे ठीक किया जा सकता है पर अगर teeth में ठंडा और गरम लगने की समस्या हो तो कुछ भी खाना पीना भी मुश्किल हो जाता है और लम्बे समय तक ये परेशानी दूर नहीं होती.

 

दांतों में ठंडा गरम लगने का कारण

 

1.दांतो की enamel coating हट जाना.
2,ज्यादा सख्त टूथब्रश का इस्तेमाल करना.
3.तम्बाकू और गुटखा ज्यादा खाने से भी दांत sensitive होते है.
4.पायरिया की वजह से दांत मसूड़ों से हटने लगते है और senstivity की problem होती है.
5.खाने पीने में acidic food का ज्यादा सेवन करने से दांत गलने लगते है.
६.दांत का कुछ हिस्सा टूट जाने पर भी ठंडा गरम लगने की समस्या होती है.
7.दांतों में ठंडा गरम लगने के उपाय और इलाज.

 

ठंडा लगने के उपाय 

 

1. Sensitive दांतो का इलाज घरेलु तरीके से करने के लिए हलके गरम पानी में 2 चम्मच नमक मिला कर दिन में 2 बार कुल्ला करे.

 

2. दांत में दर्द हो रहा हो , cavity, कीड़ा लग्न , पायरिया या दांतो की कोई और समस्या हो ये उपाय रामबाण का कम करता है . सरसो के तेल में सेंधा नमक मिला कर दांतो और मसूड़ों की मालिश करे और 5 मिनट बाद कुल्ला करे.

 

 

3. खाने पीने की ऐसी बहुत सी चीजे है जिनसे दांतो में दर्द और झनझनाहट होने लगती है , जैसे की cold drinks, खट्टी चीजे , चाय , कॉफ़ी , ठंडा पानी और मीठा . इनका सेवन करने से बचे.

 

4. दांत में पानी लगने की समस्या के उपचार में काळा तिल भी फायदेमंद है . इसके लिए सुबह शाम 1-1 चम्मच काळा तिल चबाये.

 

5. 1 चम्मच नारियल का तेल , 1 चम्मच सरसो का तेल और 1 चम्मच तिल का तेल मिला कर इससे दांतो और मसूड़ों की मालिश करे . दिन में 2 बार ये उपाय करने पर दांतो में ठंडा गरम लगने की समस्या दूर होने लगेगी.

 

6. ज्यादा ठंडा और गरम खाने से बचे , इसके इलावा चीनी और चीनी से बानी चीजों का सेवन भी काम से काम करे.

 

 बचने के उपाय 

 

1.Sensitive दांतो के लिए बाजार में कई प्रकार के sensitive टूथपेस्ट मिलते है जो ठंडा गरम लगने के इलाज में उपयोगी है.
2.Soft tooth ब्रश का इस्तेमाल करे इससे दांतो और मसूड़ों पर ज्यादा जोर नहीं पड़ेगा . साथ ही हमेशा हलके हाथो से ब्रश करे.
3.अगर आपके दांत ठन्डे और गरम के लिए अधिक sensitive है तो कोई भी mouth wash और toothpaste का प्रयोग करने से पहले एक बार doctor        की सलाह जरूर ले.
4.टीथ में ठंडा लगने की समस्या होने पर मुंह की साफ़ सफाई का खास ध्यान रखे और दिन में 2 बार ब्रश करे.
5.खाना खाने के बाद गरम पानी से कुल्ला करना चाहिए.

 

दोस्तों दांतो में ठंडा लगने के उपाय , Sensitive दांतो (teeth) का इलाज इन हिंदी का ये लेख कैसा लगा हमें बताये और अगर आपके पास झनझनाहट और दांत में पानी लगने का home treatment के लिए घरेलु नुस्खे से जुड़े सुझाव है तो हमारे साथ share करे.

Leave a Comment

%d bloggers like this: